तेगा इंडस्ट्रीज के आइपीओ को आखिरी दिन मिली शानदार प्रतिक्रिया

नई दिल्ली, तेगा इंडस्ट्रीज के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) को अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। कंपनी के इश्यू को बोली लगाने के अंतिम दिन 3 दिसंबर की सुबह तक 17.55 गुना अभिदान मिला है। कंपनी के 95.68 लाख के ऑफर साइज के मुकाबले 16.79 करोड़ इक्विटी शेयरों के लिए बोलियां आई थीं। तेगा इंडस्ट्रीज वैश्विक खनिज , खनन और थोक ठोस हैंडलिंग उद्योग के लिए विशेष उपभोग्य सामग्रियों की एक अग्रणी निर्माता और वितरक है। इस कंपनी के आइपीओ में खुदरा हिस्से को 20.31 गुना और गैर-संस्थागत निवेशकों को 28.98 गुना अभिदान मिला है। योग्य संस्थागत निवेशकों ने अपने आवंटित कोटे का 4.15 गुना बोली लगाई है।

तेगा इंडस्ट्रीज के 619 करोड़ रुपये के आकार वाला आइपीओ 1 दिसंबर को सबस्क्रिप्शन के लिए खुला था। इस आइपीओ में 1.36 करोड़ इक्विटी शेयरों की बिक्री शामिल है। आपको बताते चलें कि, इससे पहले कंपनी अपने एंकर निवेशकों से 186 करोड़ रुपये जुटा चुकी है। कंपनी ने अपने इस ऑफर के लिए प्राइस बैंड 443-453 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है। च्वाइस ब्रोकरेज के अनुसार, “सोने और तांबे के खनन के लिए आवश्यक उपभोग्य उत्पादों में तेगा की उपस्थिति और इलेक्ट्रिक वाहनों में अधिक उपयोग के कारण मजबूत मांग होने के कारण कंपनी की विकास संभावनाएं आशावादी दिखाई देती हैं।”

इस कंपनी के पास 55 से अधिक उत्पादों का पोर्टफोलियो है, जिनका उपयोग खनन और मिनरल प्रोसेसिंग, स्क्रीनिंग, और सामग्री प्रबंधन के विभिन्न चरणों में किया जाता है। यह कंपनी पॉलिमर आधारित मिल लाइनर्स की दूसरी सबसे बड़ी उत्पादक है और बड़ी एसएजी मिल और बॉल मिल दोनों में हाइब्रिड लाइनर प्रदान करने वाली एकमात्र कंपनी भी है।

साल 2020 में वैश्विक क्रशिंग, स्क्रीनिंग और मिनरल प्रोसेसिंग बाजार का अनुमान 20 बिलियन डॉलर तक था। इस क्षेत्र के साल 2030 तक 6.3 फीसद की वार्षिक वृद्धि दर के साथ 36.9 बिलियन डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद की जा रही है।