अर्थव्यवस्था में वृद्धि के साथ ही व्यवसायों के लिये ऋण प्रवाह बढ़ाने की जरूरत: मोदी

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था की जरूरतों को पूरा करने के लिये व्यवसायों को ऋण प्रवाह बढ़ाने पर शुक्रवार को जोर दिया। मोदी ने वित्तीय क्षेत्र से संबंधित बजट प्रस्तावों पर एक वेबिनार को संबोधित करते हुए कहा कि वित्तीय उत्पादों को फिनटेक और स्टार्टअप की जरूरतों के अनुरूप होना चाहिये। मोदी ने कहा कि भले ही सरकार निजी क्षेत्र को बढ़ावा देने का प्रयास कर रही है, लेकिन बैंकिंग और बीमा क्षेत्र में सरकार की उपस्थिति भी जरूरी है।मोदी ने कहा, ‘‘जैसे-जैसे हमारी अर्थव्यवस्था बढ़ रही है, और तेजी से बढ़ रही है, ऋण प्रवाह भी उतना ही महत्वपूर्ण हो गया है। आपको देखना होगा कि ऋण नये उद्यमियों, नये क्षेत्रों तक कैसे पहुंचता है। अब आपको स्टार्टअप और फिनटेक के लिये नये और बेहतर वित्तीय उत्पादों के निर्माण पर ध्यान केंद्रित करना होगा।’’ मोदी ने आगे कहा, ‘‘सरकार वित्तीय सेवा क्षेत्र को जीवंत, सक्रिय और मजबूत बनाने के लिये कदम उठा रही है।’’ उन्होंने कहा कि सरकार सही इरादे से किये गये सभी व्यवसायिक फैसलों के साथ खड़ी होगी।